Antarwasnna poem shayari Hindi | Best antarwasnna shayari in Hindi 2021

Antarwasnna Poem Shayari Hindi

नोट: सावधान ! कृपया पब्लिक एरिया में अपना मां-बाप के साथ Antarwasnna Poem Shayari Hindi और Antarwasnna shayari in Hindi नपढ़ीए । अगर आप अकेला है और अपना बीवी के साथ में है एक बंद कोठ। में है तो जरूर पढ़ लेना कुछ मजा ही आएगा आराम से अपना दोस्त के साथ पढ़ सकते हो।

Antarwasnna Poem Shayari Hindi, Antarwasnna Shayari in Hindi, Antarwasnna poem Shayari Hindi me, Antarwasnna poem Shayari, Antarwasnna poem Shayari, Antarwasnna poem, Antarwasnna poem Shayari hindi2, Antarwasnna poem Hindi, Antarwasnna poem Shayari Hindi mai, Antarwasnna poem Shayari Hindi story, Antarwasnna poem Shayari Hindi me, Antarwasnna poem Shayari in Hindi image, Antarwasnna poem Shayari in Hindi written, Antarwasnna poem Shayari in Hindi lyrics, Antarwasnna poem Shayari in Hindi for girlfriend, Antarwasnna poem Shayari in Hindi for girl, etc. के उपर शायरी, कविता लिखा हैं ।

antarwasnna poem shayari in hindi image
Antarwasnna poem Shayari in Hindi image

इश्क मुहब्बत क्या है मुझे नहीं मालूम,
सच्ची में उसका अंदर क्या हैं नहीं मालूम,,
उसकी याद आती है और खड़ा हो जाता है,
दम कितना हैं मेरे में वह तुझे क्या मालूम,,

ishk muhabbat kya hai mujhe nahin maaloom
sachchee mein usaka andar kya hain nahin maaloom
usakee yaad aatee hai aur khada ho jaata hai
dam kitana hain mere mein vah tujhe kya maaloom

जब हम बड़े हो जाते हैं हम एक ऐसा उम्र पर गुजर रहते हैं हमारी दिल हमरी अवस्थ हमारी सोच परिपर्तन होना कुछ रोमांचक हसीं मज़ाक दोस्त अपने पार्टनर के साथ करले ते हैं। इस टाइप का शायरी, कविता देखना अच्छी तो नहीं है फिर भी एक अपने दिल से करीब वोला के साथ थोड़ा enjoy परपोज़ के लिए ए लिखा गया हैं। जिस वर्ड को हम डाइरेक्ट नहीं लिख़ सकते हैं उस वर्ड को इन डाइरेक्ट लिखा हैं मिलाके पढ़ना बहुत इंजोय ले सकते हो।

कभी अच्छी कभी बुरा दिन रात कुछ न कुछ तो सोचताही रेहता हैं। क्लोज एरिया पर अपने मन पसंदी के साथ इंजॉय कर सकते हो Antarwasnna Poem Shayari Hindi और Antarwasnna shayari in Hindi आधिक खोजी किया हुवा एक वक्य शब्द हैं।

मैंने ऐसा लिखना अच्छी शब्द उच्चारण करना बूरी बाटे तो नहीं हैं। पर ऐसा ही उम्र एक समय पर अधिक इस शब्दों का मांग गूगल पर अधिक सर्च किया गया वर्ड है।

जब हम बड़े हो जाते हैं हम एक ऐसा उम्र पर गुजर रहते हैं हमारी दिल हमरी अवस्थ हमारी सोच परिपर्तन होना कभी अच्छी कभी बुरा दिन रात  कुछ न कुछ तो सोचताही रेहता हैं  Antarwasnna Poem Shayari Hindi और Antarwasnna Shayari in Hindi आधिक खोजी किया हुवा एक शब्द हैं।

इस Antarwasnna Poem Shayari Hindi और Antarwasnna shayari in Hindi वर्ड, वाक्यको जनता के साथ बैठकर नहीं Married life के बाद अपनी Husbend and wife जब साथ पर होतेहै उस समय पर सोचना पढ़ना तो लाइफ बेहतर होगा, कुछ फ़ायदा मन होगा।

antarwasnna shayari in hindi, antarwasnna poem shayari hindi
Antarwasnna Shayari in Hindi image

चड्डी औऱ चड़नी की बातें (हस्बेंड वाइफका दिलका बातें )

आपकी डम ना तो आप में हैं ?
ना ही तो आपकी हड्डी पर हैं?,
डम ताक़त तो उसके अंदर छुपा हैं
जो आपके चड्डी के अंदर हैं,,

aapakee dam na to aap mein hain ?
na hee to aapakee haddee par hain?
dam taaqat to usake andar chhupa hain
jo aapake chaddee ke andar hain

Antarwasnna Poem Shayari Hindi mai

शादीका पहला दिन एक लड़का और लड़की बंद कमराका कल्पनिक रोमांस को लेकर आपके लिए कुछ आनंद देने के लिए हम कोशिश कर रहे हैं कृपया इसको अन्यथा मत लीजिएगा हम जो लोग ऐसा ही पढ़ने के लिए उत्सुक है और जिसका शादी हुआ है।

तो वह लोग ध्यान देकर अपना हस्बैंड वाइफ का साथ में पढ़सकते हैं सख्त है शादी से पहले हैं ऐसा पढ़ना देखना मेरे हिसाब से फायदा मन नहीं होगा हम इस प्रकार की शायरी जो शादीशुदा है तो उसके लिए एक प्रकार की मैसेज देने की हमारा पूरी कोशिश है।

जब हम शादी कर लेते हैं और कोई हस्बैंड वाइफ साथ साथ में रहकर जिंदगी गुजारना दिल तो होता है लेकिन हमारी मजबूरी हो की वजह से हम दूसरे मुलुक पर नौकरी पैसे के चक्कर में एक दूसरे से दूर होता है हर कोई अपना हस्बैंड वाइफ सही जगह पर है सही सलामत रहे और कोई को इस चीज का सबको पसंद है।

लेकिन हर कोई सही सलामत पर नहीं रह सकता कुछ ना कुछ गड़बड़ मामला आया हुआ हम न्यूज़ पर देखते हैं तो इस चीज को हम पूरे जिंदगी पैसे पर नहीं अपने वाइफ हस्बैंड को पैसे के अलावा किस चीज का जरूरी है इस चीज का भी हम ध्यान देना पड़ता है।

ताकि हमारे संबंध पर किसी का नजर ना लागे तो मैंने इतना ही कहा हम सब लोग को मालूम है फिर भी मालूम हो कर भी हम इस पर ध्यान नहीं देते हैं इस बात की हम सब ध्यान देना है।

हम इस पर एक लड़का और लड़की जब शादी का पहला दिन एक बंद कमरे में रात बिताते हैं तो उस समय लड़की का मन में क्या विचार रहे होते हैं उस चीज को हम कल्पना करके एक कविता पर मैं शर्मीली शीर्षक देकर तैयार किया है जो इस प्रकार है

Antarwasnna Poem Shayari

मैं शर्मीली (शादीका पहला रात लड़की महसूस)

जब पहला दिन हम दोनों बंद कमरे में थे
आप मेरी घुंघट उठाकर मेरे चेहरा देखे थे,,

लंबा सांस लेकर आपकी तरफ देखी थी,
नजर में नजर मिलाने की कोशिश करी थी,

आपकी नजर मेरी छुपे हुए हैं दो पहाड़ों पर था,
अपने मेरे को छूने की कोशिश कर रहे थे,,

मैं अपने शर्म को छुपाने की कोशिश कर रही थी,
आपने मेरे को पकड़ लिया अपने तरफ खींचे थे,,

मैंने थोड़ी नहीं नहीं आवाज छुपाई थी,
मैंने छूट जाने के लिए प्रयास कारी थी,,

मैं नाकाम हो गया आपने पूरी पकड़े थे,
मेरी मुंह में मुंह जोड़ने की कोशिश करे थे,,

आपने मेरी पूरी तरह पकड़ रहे थे
मेरी अंगों में चुन-चुनकर खेल रहे थे,,

कुछ दर, कुछ दर्द भी महसूस करी थी,
और कुछ आनंद की महसूस भी करी थी,,

खेल जारी था जीतने का कोशिश करें थे,
कभी ऊपर कभी नीचे पूरी प्रयास करे थे,,

पकड़ में कुछ ही मजा और है सोच रही थी,
कमजोर नहीं इस बार हां में हां मिलाई थी,,

जिंदगी का पहला पन्ना सब कुछ भूल गई थी,
लगा था जिंदगी का पहला आनंद पर खो रही थी,,

मैं शर्मीली सरम दूर-दूर होकर गई,
इस खेल का खिलाड़ी मैं बन गई,,

मैं शर्मीली लाल-लाल पूरी शरम आई थी,
मैं शर्मीली मेरी शरम दूर-दूर होकर गई थी,,

Antarwasnna Poem Hindi

(दूसरी बार)

जब दूसरी रात उसी कमरे में बिताते हैं तो उस वक्त की ध्यान देकर फिर से वह लड़की का दिल में क्या क्या चलते हैं उसको फिर से इसमें दिखाने के लिए कोशिश किया है। तो ऐसा ही एक शादीशुदा लड़का लड़की साथ में खुशी होकर आनंद का जिंदगी बिताते हैं।

antarwasnna poem shayari hindi, antarwasnna poem shayari hindi me
Antarwasnna Shayari in Hindi Photo

जब आप मेरे ऊपर आप लंबा सांस लेकर लेते थे,
कभी दर्द का कभी आनंद का फीलिंग तो करती थी,,
लेकिन यह नहीं पता हुआ तो आप क्या कर रहे थे,
जब 2-4 दिन बीत गए मैं मदहोशी पागल बनते गए,,

शादी करने वाद लड़का अपनी बीबी को छोड़कर पैसे कमाने की लिए दूसरे देश पर जातेहैं अब तो एक दो महीना भी हो गया लड़का जिंदगी सेटलमेंट करने के लिए बाटे होता हैं।

पैसे कमाने के लिए दूसरे मूलक में कोई नोकरी के सील सिला में लम्बी समय तक के लिए जाता है तो उस समय लड़की का दिल में सोचा हुआ बात को हम इसमें थोड़ी सा दिखाने की कोशिश किया है।

हमको छोड़कर दूर जाने का बात कर रहे हो,
अभी अभी 2 महीना  तो  हो गए  शादी  किया,,
लगता है 2 महीने का साथ 2 मिनट भी नहीं था,
अभी तो इसके साथ बराबर भी नहीं मिलाया,,

पूरे बंजर भूमि था थोड़ा-थोड़ा पानी निकली थी,
हर बार खुदाई करनी थी पूरे पानी निकालना था,,
आप तो बाजी पर हारे हुए इंसान का तरह हो गई,
मैं अकेली क्या करूं खुदाई की आप जरूरत था,,

बीबी अपने दिलकी बाटे शेयर करती हैं एक हस्बैंड वाइफ जब एक दूसरे से नौकरी के लिए दूर होते हैं एक वाइफ का दिल पर क्या क्या चल रहा है होता है तो उस चीज को हम शायरी के माध्यम से दिखाने के लिए कोशिश किया है।

किसी को अच्छा लगता है किसी को इस बात की बुरी लगता है माफ़ किजिएगा तो हमारी कोशिश है जो है वैसे ही दिखाने के लिए कोशिश किया है जो इस प्रकार है।

antarwasnna poem shayari hindi mai
Antarwasnna poem Shayari in Hindi photo

छोड़ कर जा रहे हो  जल्दी  ही  लौट के जाना,
दूसरे लड़की  टेढ़ी  नजर से भी  नहीं देखना,,
सुना है लड़के, लड़की को पैसा और वह भी देता है,
मेरी दोनों ही मुंह का याद करके पैसे भेजते रहना,,

समय-समय पर खाना, दूसरे को बुराई मत करना,
कुछ ज्यादा ही होगा तो दोनों हाथ का सहारा लेना,,
साथ में बीते हुए कॉल को याद करके हिलाना,
जो भी हो, जैसे भी हो, अकेले ही मजा मस्ती लेना,,

हस्बैंड पूछता हैं और क्या के करती हो? मेरे को भी हद से भी ज़्यादा यद् आराहां हैं, तुम्हें छोड़ कर आनेकी दिल तो यही था मज़बूरी से छोड़कर आना पड़ा दिल समलके रहना। फिर से वाइफ जवाफ़ एस्पारकर देती हैं।

मैं अकेली क्या करू अधूरी काम छोड़ दिया,
बिस्तर पर भटकती रहती हूँ जब रात होती हैं,,
धुन लेता हूँ बिस्तर पर कभी इधर कभी उधर,
चारो तरफ ख़ाली ख़ाली हैं आपकी याद आती हैं,,

आपकी याद पर लेट जाती हूं,
उंगलीसे काम  चला  लेती हूँ,,
बीती हुए कल को सोचकर रोतीं हूँ,
छटपटाहट पगली बनकर सोती हूँ,,

हसबैंड बोलता है अपनी दिल का बात अपने बीबी को इस प्रकार शेयर करता हैं। जो इस शायरी में हम दीखाने की कोसिस किय हैं।

दूसरे अच्छा अच्छा लड़कों को याद तो आते हैं,
कोई लड़का बुलाएगा तो कान बंद करके रहना,,
अपने हस्बैंड को चेहरा मज़बूरी याद करते रहना,
कैसे भी हो यह मेरी दोनों ही मुंह बचाके रखना,,

मालूम है सब कुछ इस में ध्यान मत देना,
अपने काम अपनी बदन मुंह को ध्यान देना,,
मूली और बैगन जैसी चीजों से दूर ही रहना,
ज्यादा होगा तो अपनी उंगलीसे काम चलाना,,

Antarwasnna Poem

१२ साल बाद मेरा जनम हुवा,
रंग चढ़ी चाहने वोलो की दुआ,,
जब छोटी छोटी चूची थी,
तब तो फ्रॉक मैं सोती थी,,

आज से कल आकर हुए विस्तार,
नीबू दाने बड़े हो गई, बानी आनर,,
और आज से कल बढ़ने लगी,
लड़को का ध्यान इस तरफ लगी,,

12 saal baad mera janam huva
rang chadhee chaahane volo kee dua
jab chhotee chhotee choochee thee
tab to phrok main sotee thee

aaj se kal aakar hue vistaar
neeboo daane bade ho gaee, baanee aanar
aur aaj se kal badhane lagee
ladako ka dhyaan is taph lagee

Antarwasnna Shayari in Hindi

एक समय पर ऐसाही पढ़नेको दिल करता हैं हम इंटरनेट पर सर्च करके ऐसा उलटे सीधा Antarwasnna shayari in Hindi जैसा धुनते रहते हैं। हलाकि ऐसा देखना पढ़ना अच्छी नहीं हैं फिरभी हम सब एक ब्रह्माण्ड के मानब हैं देखि लेते हैं।

देखना पढ़ना समझना बुरी बात तो नहीं हैं इसको गलत तरीका से प्रयोग नहीं करना एक जानकारी एक संयोग जीवनकी एक हिस्सा समझकर इसको सही सलामत पढ़ना मनोरंजन लेना ।

और उसी वक्त भूल जाना दूसरेको परेशानी हानि करना हम इस Antarwasnna Poem Shayari Hindi शीर्षक पर लिखा हैं।

Shayari Hindi funny

antarwasnna poem shayari hindi me
Antarwasnna shayari in Hindi photo

सो रहा था एक चड्डी

सो रहा था रख कर चड्डी पर अपना सिर,
जब चड्डीनी, चड्डी के पास से हुवा सवार ,,
चड्डी ने देखा चड्डीनी को उठा कर सिर,
चड्डी ने देखा यह तो फटाफट गया बिख़र,,

चड्डी ने बुलाया हेलो सुनो देखो तो इधर,
अगर वक़्त हो तो ज़रासा आ जा तो इधर,,
चड्डीनीने कहा हां जी मुझे माफ़ कीजिये,
मुंह से टपक रहा है उसे तो साफ़ कीजिये,,

खपाखप कम किया फिर से चड्डी सो गया,
चड्डीनी बोली उठो जल्दी मॉल क्यू गिराया,,
चड्डी चुप चाप पावर ख़तम हो कर सोते गया,
चड्डीनी निराश दुःख मन करके निकल गया,,

बोली चड्डीनी कुछ बात नहीं करते जनाब,
मतलबी अपना अपना निकल जाने के बाद,,
सोते रहो मैं तो गयी दूसरे चड्डी के पास्,
फिर से उठजावगेना याद करोगे मै जानेके बाद,,
ok bye..hu…..

So raha tha ek chaddi

so raha tha rakh kar chaddee par apana seer
jab chaddeenee, chaddee ke paas se huva savaar
chaddee ne dekha chaddeenee ko utha kar seer
chaddee ne dekha yah to phataaphat gaya bikhar

chaddee ne bulaaya helo suno dekho to idhar
agar vaqt ho to zaraasa aa ja to idhar
chaddeeneene kaha haan jee mujhe maaf keejiye
munh se tapak raha hai use to saaf keejiye

khapaakhap kam kiya phir se chaddee so gaya
chaddeenee bolee utho jaldee mol kyoo giraaya
chaddee chup chaap paavar khatam ho kar sote gaya
chaddeenee niraash duhkh man karake nikal gaya

bolee chaddeenee kuchh baat nahin karate janaab
matalabee apana apana nikal jaane ke baad
sote raho main to gayee doosare chaddee ke paas
phir uthogena yad karo gae mai jaaneke baad
ok bye hu…..

antarwasnna poem shayari hindi, antarwasnna poem shayari hindi mai,antarwasnna poem
antarwasnna shayari in Hindi image

Antarwasnna poem Shayari Hindi me

Husband and Wife – का बातें खत (चिठ्ठी) पर:

पुराने जमाने में हमारा चाचा पापा पिताजी लोग काम करने के लिए कोई पैसा कमाने के लिए Job करने के लिए एक दूसरे मुलुक पर जाते थे उस वक्त अभी का जैसा मोबाइल का जमाना नहीं था खाट (चिट्ठी) लिखके हाल चाल कैसे हैं किसी का माध्यम से पता कर लेते थे ।

पैसा जॉब के चक्कर पर काफी सालों तक घर वापस लौट के नहीं आते थे सबका अपना-अपना एक मजबूरी था इसी समय पर एक रोमांटिक हनीमून पॉल को याद करके एक खत चिट्ठी लिखता था।

उस जमाने का एक झल के को एक Wife अपना Husband को इसी तरह एक खाट (चिट्ठी) लिखा करतीथी। मैंने इसको Antarwasnna shayari in Hindi, Antarwasnna Poem Shayari Hindi उपर एक एक कविता बनाया है ।

Wife खत लिखती है

antarwasnna poem shayari hindi,antarwasnna poem shayari hindi mai,antarwasnna poem

बहुत लम्बी समय हो चुकी हैं,
आपकी यादो से रातको सताती हैं,,
ना भूख़ ना नींद उस पर दिल जाती हैं,
आपको सोचना चाहिए किस हालत पर हैं,,

bahut lambee samay ho chukee hain
aapakee yaado se raatako sataatee hain
na bhookh na neend us par dil jaatee hain
aapako sochana chaahie kis haalat par hain

रोटी खाने खाने वाला मुंह रोटी खाती है,
घास खाने वाला मुंह घास खाती खाती है,,
घास भी नहीं खाती, रोटी भी नहीं खाती है,
वह मुंह क्या खाती? अप की प्रतीक्षा पर है,,

rotee khaane khaane vaala munh rotee khaatee hai
ghaas khaane vaala munh ghaas khaatee khaatee hai
ghaas bhee nahin khaatee, rotee bhee nahin khaatee hai
vah munh kya khaatee? ap kee prateeksha par hai

इस बात को गहरा दिल से से समझना,
जल्दी से लौट के इसकी इच्छा पूरी करना,,
दूसरे आदमियों को शक मत करना,
इस मुंह का भूख जल्दी से मिटाना,,

is baat ko gahara dil se se samajhana
jaldee se laut ke isakee ichchha pooree karana
doosare aadamiyon ko shak mat karana
is munh ka bhookh jaldee se mitaana

Husband Reply देता है

antarwasnna poem shayari hindi,antarwasnna poem shayari hindi mai,antarwasnna poem

मेरे दिल की रानी जल्दी ही मैं आउंगा,
लोहा से भी कड़क बनाकर आऊंगा,,
लेफ्ट राइट का जंगल फाड़ के रहना,
तैयार होकर मेरा प्रतीक्षा करते रहना,,

mere dil kee raanee jaldee hee main aaunga
loha se bhee kadak banaakar aaoonga
lepht rait ka jangal phaad ke rahana
taiyaar hokar mera prateeksha karate rahana

मैं आ रहा हूं तुम्हें दिन-रात सताना,
मैं आ रहा हूं जी भर के खिलाना,,
भूखी मुंह को संभाल कर रखना,
किसी दूसरे इस को मत बताना,,

main aa raha hoon tumhen din-raat sataana
main aa raha hoon jee bhar ke khilaana
bhookhee munh ko sambhaal kar rakhana
kisee doosare is ko mat bataana

Pntarwasnna Poem Shayari Hindi me

ब्रा बड़े होए लड़कों नेलगाडी नजर,
किटनेका हुवा खड़ा मुझे लगा डर,,
सोचता हूँ नजाने कितनो ने दबाया,
नजाने कितनो प्यार से चुसवाया,,

bra bade hoe ladakon nelagaadee najar
kitaneka huva khada mujhe laga dar
sochata hoon najaane kitano ne dabaaya
najaane kitano pyaar se chusavaaya

कैसे होगा ? मन ही मन सोचती रहता हूँ,
बड़े हो गई समझ ने की कोसिस करता हूँ,,
जब मेर साइज आज से कल बड़ा होते गई,
भीड़ में जाती हूँ लड़कों ने इशारे लगते गई,,

kaise hoga ? man hee man sochatee rahata hoon
bade ho gaee samajh ne kee kosis karata hoon
jab mer saij aaj se kal bada hote gaee
bheed mein jaatee hoon ladakon ne ishaare lagate gaee

लडकोंके नज़ारे, इसारे बुरी लगता था,
नजाने क्यों अभी तो अच्छा लगता था,,
सोच रहा हूँ अभी तो मैं बड़ी होती गई,
पग्ली, मेरी नज़र भी लड़को के पास् गई,,

ladakonke nazaare, isaare buree lagata tha
najaane kyon abhee to achchha lagata tha
soch raha hoon abhee to main badee hotee gaee
paglee, meree nazar bhee ladako ke paas gaee

Antarwasnna Poem Shayari Hindi,Antarwasnna shayari in Hindi, Best Antarwasnna Shayari
Antarwasnna shayari in Hindi image

जब रत होगा कंडोम भी दुहाई देगी,
टांगो बिच के सरे संसार दिखाई देगी,,
ए खेल हैं जवानी की संभलकर करना,
एक बूढ़ भी गिरा नौ महीने बाद सुनाई देगी,,

jab rat hoga kandom bhee duhaee degee
taango bich ke sare sansaar dikhaee degee
e khel hain javaanee kee sambhalakar karana
ek boodh bhee gira nau maheene baad sunaee degee

Antarwasnna shayari in Hindi, Antarwasnna Poem Shayari Hindi, antarwasnna poem shayari hindi mai, antarwasnna poem, antarwasnna poem hindi, antarwasnna poem shayari hindi story, antarwasnna poem shayari hindi me, antarwasnna poem shayari
Antarwasnna shayari in Hindi photo

फूली हुई रोटी कभी कच्ची नहीं होती,
ब्रा पहनी लड़की का बच्ची नहीं होती,,
मगरमच्छ के आशु सच्ची नहीं होती,,
वैसे मुंह में डालने से बच्ची नहीं होती,,

phoolee huee rotee kabhee kachchee nahin hotee
bra pahanee ladakee ka bachchee nahin hotee
magaramachchh ke aashu sachchee nahin hotee
vaise munh mein daalane se bachchee nahin hotee

Antarwasnna shayari in Hindi, Antarwasnna Poem Shayari Hindi, antarwasnna poem shayari hindi mai, antarwasnna poem, antarwasnna poem hindi, antarwasnna poem shayari hindi story, antarwasnna poem shayari hindi me, antarwasnna poem shayari
Antarwasnna poem Shayari in Hindi image

दुःख, गम में भी हसना जीना आना चाहिए,
बीबी का साथ पसीना बराबर आना चाहिए,,
कोसिस जोड़ रहे, हलके नहीं लगना चाहिए,
दबाके करो कमसे काम घण्टे लग्न चाहिए,,

duhkh, gam mein bhee hasana jeena aana chaahie
beebee ka saath paseena baraabar aana chaahie
kosis jod rahe, halake nahin lagana chaahie
dabaake karo kamase kaam ghante lagn chaahie

Antarwasnna poem Shayari Hindi 2

ज़माने से नहीं किसी और से डरती हूँ,
प्यार से नहीं आपकी आपसे से डरती हूँ,,
दिल तो बहुत करता हैं मिलने का,
लेकिन मिलने क बाद लैं..ड से डरती हूँ,,

zamaane se nahin kisee aur se daratee hoon
pyaar se nahin aapakee aapase se daratee hoon
dil to bahut karata hain milane ka
lekin milane ka baad landase daratee hoon

Antarwasnna shayari in Hindi
Antarwasnna shayari in Hindi image

Antarwasnna shayari

अपना अपन मजबूरी

पैग मारके आता हैं किसीको नीद,
किसी को नीद आता मुठ मारके,,
किस्मती ख़राब हैं आपने तो,
शौचालय में हाथ हिला हिलके,,

paig maarake aata hain kiseeko need
kisee ko need aata muth maarake
kismatee kharaab hain aapane to
shauchaalay mein haath hila hilake

Antarwasnna shayari in Hindi, Antarwasnna Poem Shayari Hindi, antarwasnna poem shayari hindi mai, antarwasnna poem, antarwasnna poem hindi, antarwasnna poem shayari hindi story, antarwasnna poem shayari hindi me, antarwasnna poem shayari

Antarwasnna Poem Shayari Hindi

आपके लिए एक चैलेंज है अगर आप इन शायरियों को पढ़ लेते हैं और आपका खड़ा नहीं होता तो या तो आपका उसमें पूरा कंट्रोल है ।

या फिर आपका खड़ा नहीं होता इस चैलेंज का रिजल्ट कमेंट में दीजिए फिर भी हम ऐसा ही शायरी आपके लिए लेकर जरूर आएगा 👍

Bollywood: Movie review, Movie news जानकारीके लिए इस लिंक पर क्लीक करे- Click Here

5 thoughts on “Antarwasnna poem shayari Hindi | Best antarwasnna shayari in Hindi 2021”

Leave a Comment